एक रचनात्मक प्रयास.....आदिवासी चेतना, संस्कृति, इतिहास, सामाजिक-सांस्कृतिक गतिविधियां, लोकसाहित्य, नवलेखन एवं क्षेत्रीय समाचारों को सहजनेका........!

शुक्रवार, 28 अगस्त 2015

किसान आंदोलन

नंदुरबार जिला (महाराष्ट्र)२८ अगस्त
मोदलपाडा तह. तलोदा परिसर के किसानों का बिजली कटौती कम कर नियमित आपुर्ति करने, मोदलपाडा उपकेंद्र का काम तत्काल प्रारंभ करने, जीर्ण तार एवं पोल बदलने की मांग को लेकर अंकलेश्वर-बुरहानपुर राजमार्ग पर आज होनेवाला रास्ता रोको आंदोलन नही हुआ. इन मांगों को लेकर वितरण कंपनी के अधिकारियों द्वारा ठोस लिखित आश्वासन प्राप्त हो जाने के कारण आंदोलन फिलहाल स्थगित कर दिया गया है. ज्ञातव्य हों कि, आदिवासी महासंघ के नेतृत्व में परिसर के किसानों का २८ को प्रस्तावित आंदोलन के बाबत वितरण कंपनी, तहसीलदार, अनुविभागीय अधिकारी, पुलिस स्टेशन आदि को ज्ञापन दिया गया था. लेकीन मोदलपाडा में आज सुबह वितरण कंपनी अधिकारी, प्रशासकीय अधिकारी, किसान प्रतिनिधियों एवं महासंघ के पदाधिकारियों के बीच सकारात्मक चर्चा होने और वितरण कंपनी के सहायक अभियंता एच. एम. वाणी की ओर से मोदलपाडा उपकेंद्र तथा अन्य मांगों के बाबत लिखित आश्वासन दिए जाने से आंदोलन न करने का निर्णय लिया गया.

९४०५१९१५४०

रविवार, 9 अगस्त 2015

विश्व आदिवासी दिवस

वृक्षारोपण करके मनाया आदिवासी दिवस
तलोदा जि. नंदुरबार 9 अगस्त
तहसील के ग्राम मोरवड (रंजनपुर) में वृक्षारोपण करके एवं पेड-पौधों को लेकर जनजागृति करके विश्व आदिवासी दिवस मनाया गया।
संत गुलाम बाबा की कर्मस्थली रहे ग्राम मोरवड में आदिवासी युवा महासंघ और आप परिवार की ओरसे विश्व आदिवासी दिवस के मौकेपर वृक्षारोपण और वृक्षसंवर्धन को लेकर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। क्षेत्र के विधायक उदेसिंग पाडवी की प्रमुख उपस्थिति में आयोजित इस कार्यक्रम में लक्ष्मण वलवी, जितेंद्र पाडवी नरहर ठाकरे, रूपसिंग पाडवी, डाॅ. सरपंच प्रविण वलवी, अधिवक्ता ईश्वर ठाकरे, प्रा. बंसीलाल भामरे, नारायण ठाकरे संजय चौधरी तथा बडी संख्या में नागरीक उपस्थित थे। इस मौकेपर विधायक पाडवी ने अपने सम्बोधन में मोरवड की पावन भूमि से विश्व आदिवासी दिवस के औचित्य पर वृक्षारोपण के कार्य को प्रारंभ करने को लेकर महासंघ की सराहना की और रचनात्मक कार्य के लिए प्रेरित किया। कार्याध्यक्ष हीरामण पाडवी ने कहा कि, क्षेत्र में वृक्षारोपण के कार्य को अभियान की तरह चलाया जाएगा। आगामी 15 अगस्त तक परिसर के धवलिविहीर, सोमावल, बुधावल तथा अन्य गांवों में पौधारोपण करके लोगों में जागरूकता के लिए कार्यक्रम चलाए जाएंगे। जितेंद्र पाडवी, बळीराम ठाकरे ने भी अपने विचार रखे। तत्पश्चात  मंदीर परिसर में विधायक पाडवी तथा मान्यवरों के हाथों विविध पेडों के पौधे रोपे गए। मंच संचालन और आभार प्रदर्शन गुलाबसिंग गिरासे ने किया।

गुरुवार, 5 मार्च 2015